पर हम जैसा हमे कोई मिला नहीं

 

 

यू तो आशिक़ी हम भी कर लेते
पर हम जैसा हमे कोई मिला नहीं
यू तो जान हम भी दे देते
पर हम जैसा हमे कोई मिला नहीं

गुलाब का क्या है
हर चौराहे हर मोड़ पर बिकता है
यू तो एक फूल हम भी दे देते
पर हम जैसा हमे कोई मिला नहीं

शिकवा नहीं कोई गिला नहीं
कोई बात नहीं की हम जैसा कोई मिला नहीं
यू तो कई मुसाफिरो से अभी रु ब रू होने बाकी है
कई दिलो से दिलो का मेल होना बाकी है
यु तो हम भी दिलो का मेल कर लेते
पर हम जैसा हमे कोई मिला नहीं

यू तो आशिक़ी हम भी कर लेते
पर हम जैसा हमे कोई मिला नहीं

 



DEEPANSHU SAINI